अंटार्कटिका के सफ़र की तैयारी

‘ओली केंद्र में हूँर्निंग कै बाद अभियान कै लिए चुना जाना पवला हो जाता है, तब अक्टूबर-नवंबर में गोवा का अंटार्कटिक केंद्र हर सदस्य को अभियान क्री तैयारी में अपना व्यक्तिगत सामान खरीदने कै लिए कुछ धनराशि भेजता है । इसको किट अलाडंस’ कहा जाता है । सदस्यों की सुविधा र्क लिए हसर्क” साथ एक सूची भी होती है, जिसमें खरीदे जानेवाले सामान कै बारे में सलाह दी गई. होती है । यहाँ यह याद रखना चाहिए कि हर खरीदे हुए सामान को पवक्री रसीद लेना जरूरी है, ” क्योकि इस पूरी राशि कै बिल गोवा में जमा कराने होते हैं । उसर्क बाद दूसरी महत्त्वपूर्ण बात यह है कि हर सदस्य का अभियान में अलग तरह का काम होता है; कोई पहाडों में जाकर महीना भर केंप क्रंरता है तो . कोई ‘मैत्री’ स्टेशन में हीँ बैठकर कंप्यूटर पर काम ,करता’ रहता है; इस कारण सबकै लिए एकं जैसी खरीदारी करना ठीक नहीं है । पिछले अनुभवों कै आधार पर यहाँ कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं, जिससे चुनै गए सदस्यों को अपनी तैयारी में सहायता मिल सकै ।

पहले तो यह देखिए कि आप 4 महीने की ‘समर’ टोम में जा रहे हैं या 16 महीने की ‘विंटर’ टोम में । यदि आप समर टीम में हैं तो अंटार्कटिका में आपका काम चार तरह का हो सकता हैँ-पहला और सबसे आसान कार्य ‘मैत्री’ स्टेशन में किसी यंत्र पर ही बैठकर वैज्ञानिक आँकडे एकत्र करना अथवा जहाज पर ही रहते हुए समुद्र का अध्ययन करना; या दूसरा, स्टेशन कै आस-पास की झोलों व पहाडियों से पैदल चूम-फिरकर नमूने बटोरना: या तीसरा, दक्षिण गंगोत्री स्टेशन कै मास आइसशैल्फ पर काम फरमा: या फिर चौथा और सबसे मुबिकल काम अंटार्कटिका बौ पहाडों में अथवा पहाडों कै धीच कै ग्लेशियरों पर केंप करबो वहाँ कार्य करना ।

अगर आपका कार्य पहली श्रेणी का सै तो आपको अंटार्कटिका कौ वर्फ था क्या की मार झेलनी ही नहीं होगी, जव तक आप खुद ही बाहर झाँकना न चाहें 1 सर्दी से षवने कै लिए पर्याप्त ‘पोलर’ कपडे, जूते, मोजे, दस्ताने और चपमे आपको जहाज पर ही दे दिए जाएगे, तो किसी भी बिशेष खरीदारी कौ जरूरत नहीं है । आप अपने पहनने को चार जोडा पैंट-शर्ट र्फ साथ अंटार्कटिका जा सकते हैं नु सामान्य मात्रा मॅ बनियान, चड्डी, रूमाल. मौजे और एकाध जोडे जूते-चप्पल काफी हैं । जहाज पर तौलिया-साबुन दिया जाता है, ‘मैत्री’ कै छोटे से प्रवास कै लिए एक तौलिया रख लें । अगर आप पढने का चश्मा लगाते हैं तो साथ में एक अतिरिक्त चश्यब्ब अवश्य रखें, बेहतर होगा कि दो अतिरिक्त सैट साथ में हों । अपनी आवश्यकता भर का टूथपेस्ट स्ने लीजिए, दाढी बनाना चाहें तो उसका सामान रख लें, नहीं त्तो उसकी भी क्रोइं जरूरत नहीं 1 हाँ, _ ‘नेलकटर’ रखना मत भूलिएगा । न तो कपडे धोने का साबुन स्ने जाना है, न ही खाने का कोई सामाना एक बार एक सदस्य चार महीने कै लिए डिटरजेंट पाउडर रने आए थे, और एक साहब शुद्ध घी का वड़ा सा डिब्बा लेकर घूम रहे थे; ये दोनों ही चीजें आपको यहाँ पर्याप्त मात्रा में मिल जाएँगी । एक अच्छा कैमरा अवश्य खरीद लें-पॉच-प्तात फिल्म रोल कै साथ, वे यादें हमेशा आपर्क साथ रहेंगी । अगर कैमरा किसी बैटरी या सैल पर चलता है तो उसको अतिरिक्त तादाद जरूर स्ने लें, ठंड में बैटरी वहुत जल्दी खत्म हो जाती है । जब आप अंटार्कटिका में होंगे तो लगातार दिन की रोशनी होगी, इसलिए किसी टॉर्च कौ जरूरत नहीं है । अगर आप किसी तरह की व्यक्तिगत दबा या टॉनिक लेते हैं तो इसकी भी उचित मात्रा अपने साथ रख लें । जहाज में यात्रा करने कै लिए एक चीज जो सब्रर्क यास थोडी सी होनी ही चाहिए, वह है उलटी रोकने की कोई दवा । हो सका।। है कि आपको इसकी जरूरत ही’ न पडे, पर कभी-कभी मौसम स्तना खराप दो जाता है कि जहाज पर उपलब्ध दवाएँ भी कम पड़ जाती हैं, तो इस क्या की कुछ गोलियां साथ में रखना आपकी जलयात्रा को सुरक्षित कर देगा ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *