prashant

अंटार्कटिका की यात्रा भाग 4

अंटार्कटिका का वह किनारा जहॉ जाकर जहाज लंगर डालना चाहता है और सारा सामान उतार देता है, एक ऐसै प्लेटफॉर्म कौ तरह दिखाई देता है, जो करीब 10 मीटर ऊँचा होता है और इतना लंबा कि उसका दूसरा छोर दिखता ही नहीं ! इसे आइसशैल्फ कहते हैं । यह ३ अंटार्कटिका कै भीतरी पहाडों से …

अंटार्कटिका की यात्रा भाग 4 Read More »

अंटार्कटिका की यात्रा भगा 3

हमारे अभियानों में आस्सक्लास जहाज किराए पर लिये जाते हैं । ये किसी भी देश कै ठो सकते हैं, स्सलिए इनका घालक दल विदेशी ही होता है । आधुनिक जहाज तैरते हुए सितारा-होटलों की तरह होते हैं । इनमें जहाज कै पिछले हिस्से मॅ एक बहुमंजिली इमारत बनी होती हैं…प्राय: पॉच या छा मजिल ऊँची …

अंटार्कटिका की यात्रा भगा 3 Read More »

अंटार्कटिका की यात्रा

गोवा से र्कपटाउन तक कौ यात्रा तो हवाई जहाज से एक ही दिन में पूरी हो जाती है । भारत से दक्षिण अफ्रीका कै बीच यह’ विमान रात को उडता है और वह भी सागर कै ऊपर से, तो कूछ भी देखने लायक नहीं होता । कैपटाउन पहुंचने कै बाद अगर समय मिला तो कुछ …

अंटार्कटिका की यात्रा Read More »

अंटार्कटिका का सफर भाग 2

अब करें विंटर टीम की बात 1 ऊपर दी हुई इन सूचियों से आपको अपनी तैयारी का काफी कुछ अनुमान तो दो ही गया होगा । फर्क सिर्फ इतना है कि आप 16 महीने कै लिए ऐसी जगह पर जा रहे हैं, जहाँ कोई भी दुकान नहीं है 1 उँकि चिंटर्रिग कै दोरान चाहर की …

अंटार्कटिका का सफर भाग 2 Read More »

अंटार्कटिका के सफ़र

सिर क्रो क्चद्रनेवंग्लो ‘मंकी कैप’ या बात्नावलावा जहाज पर एक तो दो जाती है, आपकै यास एक और होनी चाहिए। इसे भी भारत से खरीदकर ” चलें। ‘ और अब गरमी को ऋतु की आखिरी श्रेणी, पहाडों में कैप करनेवग्लो ! यह त्तो गरमी की ऋतु है ही नहीं, क्योंकि यहाँ त्ताप दिसंबर-जनवरी की भरी …

अंटार्कटिका के सफ़र Read More »

अंटार्कटिका के सफर की तैयारी भाग 2

अगर आपका फाम दूसरी श्रेणी का है तो आप मैत्री फो ‘श्रिमाचेर’ पहाडी पर पेशा चूमकर काम करेंगे । आपकी ऊपर की लिस्ट कै अलावा एक जोडा गरम ‘एनर्स’ थानी भीतरी वस्त्र खरीद लेने चाहिए. जो भारत में आसानी सै मिलते ई…सर्फद्ग रंग कै, वदन से चिपकै हुए पत्मामेड्डे-कमीज की तरह । एक जोडा ‘पोलर …

अंटार्कटिका के सफर की तैयारी भाग 2 Read More »

अंटार्कटिका के सफ़र की तैयारी

‘ओली केंद्र में हूँर्निंग कै बाद अभियान कै लिए चुना जाना पवला हो जाता है, तब अक्टूबर-नवंबर में गोवा का अंटार्कटिक केंद्र हर सदस्य को अभियान क्री तैयारी में अपना व्यक्तिगत सामान खरीदने कै लिए कुछ धनराशि भेजता है । इसको किट अलाडंस’ कहा जाता है । सदस्यों की सुविधा र्क लिए हसर्क” साथ एक …

अंटार्कटिका के सफ़र की तैयारी Read More »

अंटार्कटिका में भारत भाग 6

यहाँ से अंटार्कटिका र्कबल 4,000 किलोमीटर दूर रह जाता है और जहाज यह दूरी बस 9-10 दिनों में ही पार कर लेता है । गोवा से जहाज लेने पर लगभग एक महीना पानी में चलते हुए ही बीत जात्ता था: इस नई व्यवस्था में वैज्ञानिकों का समय भी बचता है और जहाज कै किराए पर …

अंटार्कटिका में भारत भाग 6 Read More »

अंटार्कटिका में भारत भाग 5

अवतूबर में व्यक्तिगत भारी सामान या वैज्ञानिक उपकरण गोवा कै अंटार्कटिक केंद्र में जमा कराने का समय होता है 1 सन् 1999 तक भारत र्क सारे अभियान दिसंबर र्क महीने में गोवा से ही मानी कै जहाज पर सवार होते थे, तब सामान जमा कराने की यह कार्यवाही नहीं होती थी । सदस्य सीधे ही …

अंटार्कटिका में भारत भाग 5 Read More »

अंटार्कटिका में भारत भाग 4

हालाँकि अधिकांश प्रस्ताव बिज्ञान कै बिथिन्न विषयों वो ही होते हैं, पर यदि कार्यं महत्त्व का है तो अन्य क्षेत्रों कै प्रस्ताव भी स्वीकार कर लिये जाते हैं । उदाहरण कै लिए प्रसिध्द फोटोग्राफर, पत्रकार, मनोवैज्ञानिक; समाजशक्वी .मी हमारे अंटार्कटिक अभियानों में भाग रने चुकें हैं। दल का एक दूसरा हिस्सा भी होता है, जो …

अंटार्कटिका में भारत भाग 4 Read More »

error: Content is protected !!